Unjha Manmathabhra Ras (40tab)

ऊर्जा को पुनर्स्थापित करता है, पुरुषों में जीवन शक्ति, शारीरिक शक्ति और सहनशक्ति में सुधार करता है।
NameUnjha Manmathabhra Ras (40tab)
Brandउंझा
MRP₹ 126
Categoryआयुर्वेद ( ayurveda ), रास और सिंदूर
Sizes40टैब
Prescription RequiredNo
Length3 सेंटिमीटर
Width3 सेंटिमीटर
Height6.5 सेंटिमीटर
Weight23 ग्राम
Typeरास

Manmathabhara Ras के बारे में

हिंदू पौराणिक कथाओं में, कामदेव ह्यूमन ( human ) प्रेम के देवता हैं और मनमाथाभ्र (दिलों का मंथन) कामदेव का दूसरा नाम है। यह आयुर्वेदिक औषधि, जिसका नाम उन्हीं के नाम पर पड़ा है, का इस्तेमाल लैंगिक ( genital ) शक्ति, रिप्रोडक्शन योग्यता में इम्प्रूवमेंट और पुरुष ( male ) लैंगिक ( genital ) विकृतियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। यह नपुंसकता, बांझपन, शीघ्रपतन, कम कामेच्छा, थकान और लैंगिक ( genital ) शक्ति की नुक्सान के उपचार के लिए इशारा दिया गया है। यह एक जड़ी-बूटी वाली औषधि है जिसमें शुद्ध ( pure ) पारा, शुद्ध ( pure ) सल्फर, और धातु की तैयारी और हर्बल मटेरियल शामिल है। इसके उपयोग से शक्ति और जोश मिलता है। यह बॉडी ( body ) को फिर से जीवंत करता है, लैंगिक ( genital ) सहनशक्ति में इम्प्रूवमेंट करता है और लैंगिक ( genital ) प्रॉब्लम्स को ठीक करता है।

उंझा मनमथभरा रसो की प्रमुख मटेरियल

  • Abhrak Bhasma
  • Sudha Parad
  • Sudha Gandhak
  • कपूर
  • वांग भस्म
  • ताम्र भस्म
  • लौह भस्म
  • Vidhara Mool
  • Vidhari kand
  • स्टावरी
  • Tal mkhana
  • कोंचबीजो
  • Jayphala
  • जावत्री
  • अतिसा
  • लवांगी

मनमाथाभरा जूस के फायदा

  • यह परिवर्तनकारी टॉनिक और कायाकल्प करने वाला है।
  • शीघ्रपतन
  • इसके उपयोग से जीवन शक्ति, सहनशक्ति और शक्ति प्राप्त होती है।
  • नपुंसकता
  • पुरुष ( male ) में विश्वास हासिल करने में सहायक

मनमथभरा रसो की डोज़

  • 1-2 टैबलेट ( tablet ) दिन में एक या दो बार आहार ( food ) से पहले या बाद में या आयुर्वेदिक डॉक्टर के निर्देशानुसार।
  • यह औषधि पारंपरिक रूप से मिल्क के साथ दी जाती है

मनमाथाभरा रासी की सतर्कता

  • यह औषधि केवल सख्त औषधीय निगरानी में ही ली जानी चाहिए।
  • इस औषधि के साथ स्व-औषधि जोखिमभरा साबित हो सकती है।
  • शिशुओं और प्रेग्नेंट स्त्रियों को इससे बचना चाहिए।
  • इस औषधि का चयन किसी अच्छी कंपनी से करना निश्चित रूप से करें।
  • ओवरडोज से थरथराहट, घुमेरी ( dizziness ) आना आदि जैसे दुष्प्रभाव ( side effect ) हो सकते हैं।
  • इस औषधि को केवल अवधारित डोज़ में और अवधारित अवधि के लिए ही लेना निश्चित रूप से करें।